भारतपद मिलते ही हो जाता है लोगों का दिमाग खराबः मुलायम

Clash Between SP Supporter UttarPradesh 

लखनऊ. समाजवादी पार्टी की बैठक हुई। इस महाबैठक में मुलायम सिंह यादव ने कहा कि शिवपाल यादव बड़े नेता हैं। पार्टी में टकराव से दुखी हूं। मुलायम सिंह यादव ने कहा कि लोहिया जी के दिखाए मार्ग पर आगे चलें। उन्होंने कहा कि जरुरत पड़ी तो हम जेल जाने से भी पीछे नहीं हटे। पार्टी बनाने के लिए बहुत संघर्ष किया। हम जेल भी गए कोई नहीं जानता। साथ ही उन्होंने पार्टी नेताओं को हिदायत दी की ज्यादा बढ़-चढ़कर बातें न करें। जो उछल रहे हैं, वे एक भी लाठी नहीं झेल सकते।

 

  • Next
Go to Next Page !
  • Next

 

मुलायम ने आगे कहा कि हमें अपनी कमजोरियां दूर करनी चाहिए। हम कमजोरी दूर करने के बजाय लड़ने लगे। मुलायम सिंह यादव ने कहा कि युवाओं को मैंने टिकट दिया। ऐसा नहीं है कि युवा मेरे साथ नहीं हैं।
मुलायम सिंह यादव ने इशारों में साफ कहा कि पद मिलते ही दिमाग खराब हो गया। अगर आलोचना सही है तो सुधरने की जरुरत है। कुछ नेता केवल चापलूस हैं। नारेबाजी करने वाले बाहर होंगे। उन्होंने कहा कि मैं पीएम बन सकता था, लेकिन समझौता नहीं किया।

बैठक में अखिलेश के बाद चाचा शिवपाल ने अपने बात रखते हुए पूछा कि क्या मेरे मंत्रालय में अच्छा काम नहीं हुआ, क्या मेरा कोई योगदान नहीं है?
मैं अपने बेटे और गंगा जल की कसम खाकर कहता हूं कि मेरे साथ हुई बैठक में अखिलेश ने कहा था कि वह नई पार्टी बनाएंगे। शिवपाल ने अपने संबोधन में मुलायम को प्रदेश की कमान संभालने की बात कहीं और मुख्यमंत्री पद लेने को कहा।
बैठक में सीएम अख‌िलेश ने मुलायम सिंह की तरफ देखते हुए कहा कि अगर किसी को लगता है कि मेरे इस्तीफे से सबकुछ ठीक हो जाता तो मैं इस्तीफा देने को तैयार हूं।
अखिलेश ने आगे कहा कि लोग पर‌िवार में मतभेद पैदा कर रहे हैं मुझे नेताजी और श‌िवपाल के सामने बात रखने का मौका चाह‌िए। उन्होंने कहा, मुझे अन्याय के ख‌िलाफ लड़ना नेताजी ने स‌िखाया है। मेरे प‌िता मेरे ल‌िए गुरु हैं। समाजवादी पार्टी को 25 साल पूरे हुए, मैं नई पार्टी क्यों बनाऊं। उन्होंने कहा, मेरे और प‌र‌िवार के ख‌िलाफ साज‌िश हो रही है तो मैं कार्रवाई जरूर करूंगा। सबके सामने अपनी बात रखते-रखते सीएम अ‌ख‌िलेश बेहद भावुक हो गए।
इससे पहले सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष की मी‌ट‌िंग के पहले सपा कार्यालय के बाहर जुटे समर्थकों ने जमकर नारेबाजी की। अख‌िलेश और श‌िवपाल के समर्थक दो गुटों में बंट गए। वहीं समर्थकों के बीच नारेबाजी से तनाव की स्थ‌ित‌ि पैदा हो गई। खबरों के मुताब‌िक मारपीट भी हुई। श‌िवपाल के समर्थकों ने अख‌िलेश के समर्थकों पर मारपीट और गुंडागर्दी का आरोप लगाया। पुल‌िस ने हंगामा कर रहे समर्थकों को खदेड़ा और बेरीकेड‌िंग कर रास्ता बंद क‌िया। सपा मुख्यालय जाने का मेन रास्ता बंद कर द‌िया गया है।
बैठक के ल‌िए पार्टी के सभी विधायक और एमएलसी बुलाए गए। पार्टी के सभी प्रत्याशी, पूर्व सांसद और पूर्व विधायकों को मीटिंग में बुलाया गया। सीएम अखिलेश सपा दफ्तर पहुंचे। सीएम के साथ उनके समर्थक भी मीटिंग में शामिल होंगे।

Leave a Reply